Electronic meter क्या है ओर यह कहा प्रयोग होता है?

Electronic meter क्या है ओर यह कहा प्रयोग होता है?:- आप सभी का स्वागत है हमारी साइट पर हम आपको अपनी इस साइट पर टेक्नोलॉजी से रिलेटेड जानकारी देते है इसी को देखते हुए हम आज आपके लिए एक ओर आर्टिकल लेकर आये है जिसका नाम है electronic meter क्या है? आपको बिजली के बारे में तो पता ही होगा यह तो कॉमन सी बात है क्योंकि आज के समय मे हम बिजली के बिना नही रह सकते है।बिजली हमारे जीवन का एक अंग जैसा बन गयी है जिसके बिना हमारी जिंदगी अधूरी सी महसूस होती है।इस आर्टिकल के जरिये हम आपको इसके बारे में पूरे जानकारी देंगे जैसे कि यह क्या है इसको कैसे लगाया जाता है और यह कहाँ उपयोग होता है।

हमने आपको नीचे कुछ जानकारी दी है जैसे कि How electric meter works or how digital electric meter works in india आदि के बारे में बताया है। जाकर आप देख सकते है।

Electronic meter क्या है?

Electronic meter क्या है ओर यह कहा प्रयोग होता है?

Electronic meter एक ऐसा यंत्र है जिसकी मदद से हमें रीडिंग की गड़ना कर सकते है और उससे यह भी पता लगा सकते है कि हमने कितनी ऊर्जा व्यय करी है और उसमे से हमे अब कितने का भुगतान करना होगा। अर्थात Electronic meter से हम घरों में चल रही बिजली की खपत का पता लगा सकते है कि कितनी बिजली हमने अपने एक महीने में व्यय(खत्म) करी है। यह बिजली खपत का पता लगने के लिए एक बहुत अच्छा यंत्र है पर हम इसको एक दूरसे नाम से जानते है जिसको Unit meter भी कहा जाता है। 

वैसे तो अगर बात की जाए electronic meter की तो यह बहुत से प्रकार के होते है पर सब लोग उन बहुत प्रकारों में से केवल एक पर जादा धियान देते है जिसको हम unit meter बोलते है। क्योंकि यह हमारे घरों में लगा होता है और हर महीने इसके जरिये ही बिजली suplier हमारे घर का बिल नकाल देता है वह unit के जरिये यह सब कर पता है। जैसे कि अगर एक व्यक्ति है जिसका नाम राम कुमार है अब राम कुमार के घर का एक महीना पूरा हो गया है अब उसका बिल निकल रहा है तो बिजली बिल निकालने वाले केवल यह जनता है कि उसने पूरे महीने में कितनी बिजली खर्च करी है और वह उसको unit को अपनी मशीन में डालता है जिसके कारण राम कुमार का बिजली का बिल निकल जाता है वो ऐसे की उसने एक महीने में 50 unit खर्च करी है पर प्रति 1 unit की कीमत 7 रुपए है तो इस हिसाब से 50 × 7 = 350. होती है पर उसपर कुछ जादा पैसे ऐड होकर आता है जिसको हम मीटर चार्ज बोलते है।

Electronic meter कितने प्रकार के होते है?

Electronic meter बहुत से प्रकार के होते है जिसमे से कुछ का जिक्र आज हम अपने इस आर्टिकल में आपको बताने जा रहे है।  Electronic meter

  • Unit meter क्या है?

Unit meter की बात की जाए तो यह भी एक प्रकार का electronic meter ही है। और यह बिजली विभाग की सम्पति होती है इसके द्वारा बिजली का बिल प्रति माह बिजली विभाग लोगो के घर तक बहुत आसानी से निकालकर दे देते है और उस व्यक्ति को हर महीने वह बिल चुकाना होता है वैसा तो पहले जब बिजली आयी थी तब यह सब उपलब्ध नही था लोगो को अगर बिजली चाहिए होती थी तो उसको महीने में fix धन राशि बिजली विभाग को देनी होती थी और इसके कुछ समय बाद मीटर का उपयोग किया जाने लगा यह मीटर 1 watt 2watt etc तक होते है इनसे यह होता है कि अगर आपका छोटा घर है तो 1 वाट में काम हो जाता है अगर थोड़ा बड़ा घर है तो 2 वाट में काम हो जाता है। अगर इससे अधिक है तो बिजली मीटर लगाने वाला देखकर बता देता है और वह उस हिसाब से उतने वाट का मीटर लगा देते है।

  • Speedometer क्या होता है?

इस meter का उपयोग speed को पता करने में किया जाता है। जैसे कि आप किसी बाइक को ही देख लो उसने एक मीटर लगा होता है जिसका हमे पता लगता रहता है कि बाइक कितनी तेज़ चल रही है उसका पता हम speedometer के द्वारा ही पता लगा पाते है।यह जादा तर बाइक, कार, स्कूटी आदि में लगा होता है जिसके जरिये हम स्पीड का पता बहुत आसानी से लगा सकते है वैसे तो आज के समय मे बहुत से लोग जब running करते ब तो उनको अपनी स्पीड नापने के लिए किसी चीज़ की आवस्यकता होती है तो वह अपने लिए एक पॉकेट स्पीड मीटर लेते है जिसको वह अपने हाथ मे रखते है और भागते है तो उससे पता लग जाता है कि उसकी स्पीड कितनी है।

इसके अलावा आप cricket match तो देखते ही होंगे उसमे जब बॉल कितनी स्पीड से फेंकी जाती है इसका पता भी लगाकर वह अपने users को दिखा देते है क्योंकि वह लोग भी किसी speedometer का ही उपयोग कर रहे होते है जिसकी मदद से हमे स्पीड का पता लगाकर वह हमें बता देते है 

  • Multimeter क्या होता है ?

यह एक छोटा सा यंत्र होता है इसके जरिये भी हम किसी चीज़ को नाप सकते है जैसे कि किसी तार में कितनी एम्पियर की बिजली बह रही है यह पता किया जा सकता है इस मीटर का उपयोग जादा तर electronic की शॉप पर किया जाता है। इसका वह इस्तेमाल किसी electric समान को ठीक करने में करते है जैसे बहुत बार ऐसा हो है कि किसी इलेक्ट्रिक मशीन का बहुत से पार्ट खराब हो जाता है तो उसका पता कैसे लगता है उसका पता मल्टीमीटर से ही किया जाता है कि उस में बिजली का प्रवाह हो रहा है या नही अगर नही तो वह पार्ट खराब है उसकी जगह कोई नया पार्ट लगाना होता है।

  •  Voltmeter क्या होता है?

इसको हम एक दूसरे नाम से भी जानते है जिसका नाम है voltage। वोल्टेज का उपयोग जादा तर बिजली के प्रवाह को एक समान रखने में किया जाता है। बहुत बार अपने यह देखा होगा कि आपका फ्रीज़ अगर बहुत पुराना है तो उसको वोल्टेज की जरूरत होती है जिससे कि वह फूक न जाये क्योंकि घरों में बिजकी कम और जादा होती रहती है इसकी को देखते हुए अब सभी इलेक्टिक समान में एक छोटा सा वोल्टेज लगा होता है और जो अब नए फ्रीज़ आ रहे है उसमें भी पहले से ही अंदर एक वोल्टेज लगा होता है। जिससे कि वोल्टमीटर का उपयोग बहुत ज्यादा कम हो गया है पहले के हिसाब से अब बहुत कम वोल्टेज इस्तेमाल किये जाते है।

शब्दो की समाप्ति 

आज कल बहुत से लोग इन इलेक्ट्रॉनिक मीटर का उपयोग करते है चाहे उनको पता न हो कि जो चीज़ वह इस्तेमाल कर रहे है उसके को से मीटर लगा होता है जैसे आप बाइक को ही देख लो उसमे आपको speedometer देखने को मिलता है घर पर ही देख लो unit meter देखने को मिलता है इसी प्रकार बहुत से मीटर का इस्तेमाल हम करते है।

आशा करते है कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसन्द आएगा हमारी टीम आपके लिए आर्टिकल जब लिखती है तो उसकी पूरी तरह से जांच करके की यह जानकारी 100℅ सही है तभी आपके लिए हम उपलब्ध कराते है।

अगर आपको इसके बारे में हमारी टीम से कुछ सवाल जवाब करने है या आप कुछ ऐसा जानना चाहते है जोकि टेक्नोलॉजी के ऊपर है तो आप हमें contact कर सकते है या फिर आप हमें contact us पेज के जरिये हमसे संपर्क करे या फिर इस पोस्ट में कॉमेंट करके सम्पर्क करें हमारी टीम ओके लिए 24*7 उपलब्ध है।

Leave a Comment